बिहार चुनाव में व्यस्त रहने के बावजूद सदर विधायक ने घायल पत्रकार की ली सुध

0
164
Bihar Elections

बिहार विधानसभा चुनाव में व्यस्त रहने के बावजूद हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल ने घायल युवा पत्रकार विवेक सिंह की लगातार सुध ली है।

पहले उन्होंने घायल पत्रकार के परिजनों से बात की फ़िर अस्पताल में अपने सदर विधायक प्रतिनिधि विजय कुमार को उनका हाल जानने भेजा और शुक्रवार को अपने मीडिया प्रतिनिधि रंजन चौधरी को उनके छुट्टी होने के पश्चात ग्राम कदमा स्थित आवास में भेजकर उनका कुशलक्षेम प्राप्त किया।

विधायक श्री जयसवाल के निर्देश पर उनके मीडिया प्रतिनिधि रंजन चौधरी घायल युवा पत्रकार विवेक सिंह से उनके आवास पर मिले और उनका वर्तमान हाल जानकार विधायक श्री जायसवाल को अवगत कराया और ईश्वर से विवेक के यथाशीघ्र स्वस्थ होने की कामना की ।

सदर विधायक मनीष जायसवाल ने संबंधित पुलिस अधिकारियों से बात करके जल्द इस गंभीर मामले में हमलावरों को चिन्हित कर सख्त कार्रवाई करने की मांग की।

विधायक श्री जयसवाल के निर्देश पर उनके मीडिया प्रतिनिधि रंजन चौधरी घायल युवा पत्रकार विवेक सिंह से उनके आवास पर मिले और उनका वर्तमान हाल जानकार विधायक श्री जायसवाल को अवगत कराया और ईश्वर से विवेक के यथाशीघ्र स्वस्थ होने की कामना की ।

विधायक श्री जायसवाल ने हजारीबाग के पत्रकारों द्वारा सामूहिक रूप से इस मामले को लेकर डीसी- एसपी को ज्ञापन सौंपकर की गई मांग का भी समर्थन किया साथ ही उन्होंने कहा कि बिहार चुनाव से लौटने के पश्चात सीधे पत्रकार विवेक सिंह से मिलूंगा ।

विधायक श्री जायसवाल ने हजारीबाग समेत पूरे झारखंड में लॉ एंड ऑर्डर की बेहद ख़राब स्थिति पर चिंता जताते हुए बताया कि पिछले 10 महीने में झारखंड में सत्ता परिवर्तन होने के साथ ही उग्रवाद, दुष्कर्म, हत्या, लूट- पाट, चोरी- ढकैती, अपराधियों का मनोबल चरम पर पहुंच गया और लॉ एंड ऑर्डर पूरी तरह चरमरा गई है।

एक और जहां संपूर्ण देश के साथ झारखंड प्रदेश दोहरी संकट का सामना कर रहा है, कोरोना की मार और इकोनोमिक त्रासदी झेल रहा है ऐसे समय में कानून व्यवस्था का चरमराना, उग्रवादी, दुष्कर्मी और अपराधियों का मनोबल बढ़ना प्रदेश की सरकार के लिए सर्वाधिक गंभीर और चिंताजनक विषय है।

इस गंभीर और संवेदनशील विषय पर राज्य की महागठबंधन की सरकार का कठोर नहीं होना राज्य की जनता के साथ खिलवाड़ करने जैसा प्रतीत होता है। विधायक श्री जायसवाल ने यह भी कहा कि जिस राज्य में लोकतंत्र के चौथे स्तंभ ही सुरक्षित नहीं रहें वहां हर आलम असुरक्षित महसूस करेगा।

उन्होंने राज्य सरकार से भी यह मांग किया कि राज्य की चरमराई कानून व्यवस्था को जल्द सुदृढ़ करें, ताकि झारखंड प्रदेश और प्रदेशवासी महफूज़ रह सकें ।

उल्लेखनीय है कि हजारीबाग के युवा पत्रकार कदमा ग्राम निवासी विवेक सिंह पर बीते 23 अक्टूबर की रात्रि को अज्ञात अपराधियों ने धारदार हथियार से जानलेवा हमला किया था।

जिससे बाद विवेक बुरी तरह घायल हो गए थे। शहर के आरोग्यम हॉस्पिटल के चिकित्सकों की टीम ने करीब 03 घंटे की जटिल सर्जरी के पश्चात उसके कान के सामने के हिस्से से निरंतर बह रहे ख़ून के बहाव को सफ़लतापूर्वक सर्जरी के बाद बंद किया था।

जिसके बाद विवेक करीब 06 दिन अस्पताल के आईसीयू में भर्ती रहने के बाद विगत 28 अक्टूबर को यहां से रिलीज़ होकर अपने घर गए हैं। लेकिन अबतक इस मामले में पुलिस हमलावरों तक नहीं पहुंच सकी है ।


Must Read : ओबीसी एससी और एसटी का आरक्षण बढ़ाएंगे: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से बातचीत।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here